टेक स्टार्टअप में कोरोना महामारी के बाद हुई रिकवरी, इससे देश में बढ़े रोजगार के अवसर

0
0

[ad_1]

नई दिल्ली. कोरोना महामारी ने पूरे विश्व के साथ भारत में भी उद्योग-धंधों को हिला कर रख दिया. कोविड-19 और लॉकडाउन का सीधा असर देश में टेक स्टार्टअप पर भी देखने को मिला था.  लेकिन इस सबके बीच अच्छी बात ये रही है कि देश में अनलॉक की प्रक्रिया के साथ टेक स्टार्टअप में तेजी से रिकवरी देखी गई है. नेशनल एसोसिएशन ऑफ सॉफ्टवेयर एंड सर्विसेज (NASSCOM) की रिपोर्ट के अनुसार लॉकडाउन में ढ़ील और सरकार की मदद से टेक स्टार्टअप इंड्रस्टी ने फिर से विकास करना शुरू कर दिया है. NASSCOM की रिपोर्ट में अनुमान लगाया गया है कि अगले 6 महीने में टेक स्टार्टअप मे 5 गुना की वृद्धि हो सकती है और टेक स्टार्टअप का 50 फीसदी राजस्व भी बढ़ सकता है.

अप्रैल 2020 में टेक स्टार्टअप को हुआ था नुकसान- NASSCOM की रिपोर्ट के अनुसार कोरोना महामारी की वजह से देश के टेक स्टार्टअप को काफी नुकसान हुआ था. लेकिन अनलॉक की प्रक्रिया शुरू होने और सरकार की ओर से प्रोत्साहन पैकेज से एक बार फिर टेक स्टार्टअप ने गति पकड़ ली.

NASSCOM की रिपोर्ट में बताया गया है कि टेक स्टार्टअप ने अप्रैल 2020 की तुलना में पिछले महीने 3 से 4 गुना ज्यादा फंड जुटाया है. इसके साथ ही देश की टेक कंपनियों ने हायरिंग पर लगी रोक को हटा कर नए लोगों को नौकरी देना शुरू कर दिया है.

यह भी पढ़ें: क्या देश के सभी छात्रों को मुफ्त लैपटॉप दे रही है मोदी सरकार! जानिए सच्चाई

महामारी के दौरान इस क्षेत्र के स्टार्टअप उभरे- NASSCOM की रिपोर्ट के अनुसार देश में कोरोना महामारी के दौरान Edtech, Fintech, Healthtech और Retail Tech में से प्रत्येक में 25 फीसदी स्टार्टअप में रिकॉर्ड रिकवरी हुई.

टैग: COVID-19, भारतीय स्टार्टअप, नौकरी और तरक्की, नौकरी के अवसर, तकनीक सम्बन्धी समाचार, टेक न्यूज नं



[ad_2]

Leave a reply