Reliance-Disney India ink pact to form entertainment juggernaut; Nita Ambani chair merged entity | रिलायंस-डिज्नी ने जॉइंट वेंचर एग्रीमेंट साइन किया: एंटरटेनमेंट और स्पोर्ट्स की सबसे बड़ी कंपनी बनेगी, नीता अंबानी इसकी चेयरपर्सन होंगी

0
5


  • हिंदी समाचार
  • व्यापार
  • एंटरटेनमेंट जगरनॉट बनाने के लिए रिलायंस डिज़नी इंडिया इंक पैक्ट; नीता अंबानी अध्यक्ष की इकाई का विलय

नई दिल्ली7 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक
इस डील के तहत वायाकॉम 18 को स्टार इंडिया में मर्ज कर दिया जाएगा। - Dainik Bhaskar

इस डील के तहत वायाकॉम 18 को स्टार इंडिया में मर्ज कर दिया जाएगा।

रिलायंस इंडस्ट्रीज, वायाकॉम 18 और वॉल्ट डिज्नी ने जॉइंट वेंचर एग्रीमेंट साइन किया है। डील के तहत वायाकॉम 18 को स्टार इंडिया में मर्ज किया जाएगा। नीता अंबानी नई कंपनी की चेयरपर्सन होंगी। वहीं वॉल्ट डिज्नी के पूर्व एग्जीक्यूटिव उदय शंकर वाइस चेयरपर्सन होंगे।

डील पूरी होने के बाद ये भारतीय मीडिया, मनोरंजन और खेल क्षेत्र में सबसे बड़ी कंपनी बन जाएगी। इसके पास कई भाषाओं में 100 से अधिक चैनल, दो प्रमुख ओटीटी प्लेटफॉर्म और देश भर में 75 करोड़ का दर्शक आधार होगा। 2025 की शुरुआत में डील पूरी होने की उम्मीद है।

पोस्ट-मनी बेसिस पर इस जॉइंट वेंचर की ट्रांजैक्शन वैल्यू 70,352 करोड़ रुपए आंकी गई है। ट्रांजैक्शन पूरा होने के बाद, नई कंपनी को रिलायंस इंडस्ट्रीज कंट्रोल करेगी और इसमें 11,500 करोड़ रुपए निवेश भी करेगी। इसमें रिलायंस और उसकी सहायक कंपनी वायाकॉम के पास 63.16% की बहुमत हिस्सेदारी होगी, जबकि डिज्नी की 36.84% हिस्सेदारी रहेगी।

नई कंपनी के पास डिज्नी के 30,000 से ज्यादा कंटेंट का लाइसेंस होगा
नई कंपनी भारत में एंटरटेनमेंट और स्पोर्ट्स कंटेंट के लिए लीडिंग टीवी और डिजिटल स्ट्रीमिंग प्लेटफॉर्मों में से एक होगी। एंटरटेनमेंट चैनल्स जैसे कलर्स, स्टारप्लस, स्टारगोल्ड और स्पोर्ट्स चैनल जैसे स्टार स्पोर्ट्स और स्पोर्ट्स18 एक साथ मिलेंगे। जियो सिनेमा और हॉटस्टार भी एक साथ आ जाएंगे। नई कंपनी के पास डिज्नी के 30,000 से ज्यादा कंटेंट का लाइसेंस भी होगा।

डिज्नी के CEO बोले- रिलायंस को इंडियन मार्केट और कंज्यूमर की गहरी समझ
डिज्नी के CEO बॉब इगर ने कहा कि रिलायंस को इंडियन मार्केट और कंज्यूमर की गहरी समझ है। हम मिलकर देश की लीडिंग मीडिया कंपनियों में से एक बनेंगे, जिससे हम डिजिटल सर्विसेज, एंटरटेनमेंट और स्पोर्ट्स कंटेंट के बड़े पोर्टफोलियो के साथ कंज्यूमर्स को बेहतर सर्विस दे सकेंगे।

मुकेश अंबानी ने इसे एंटरटेनमेंट इंडस्ट्री में नए युग की शुरुआत बताया
रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन मुकेश अंबानी ने कहा कि यह एक ऐतिहासिक डील है, जो इंडियन एंटरटेनमेंट इंडस्ट्री में एक नए युग की शुरुआत है। हमने ग्लोबल लेवल पर बेस्ट मीडिया ग्रुप के तौर पर हमेशा से डिज्नी का सम्मान किया है।

हम इस स्ट्रैटजिक जॉइंट वेंचर को लेकर बहुत एक्साइटेड हैं और रिलायंस ग्रुप के प्रमुख पार्टनर के रूप में डिज्नी का स्वागत करते हैं। इससे हमें देश भर के व्यूअर्स को किफायती कीमत पर यूनीक कंटेंट दिखाने में मदद मिलेगी।

भारत की सबसे बड़ी प्राइवेट सेक्टर कंपनी है रिलायंस
रिलायंस भारत की सबसे बड़ी प्राइवेट सेक्टर कंपनी है, जिसका मार्केट कैप 19,68,138.30 करोड़ है। 31 मार्च 2023 के अनुसार, रिलायंस का कंसोलिडेटेड रेवेन्यू ₹9,74,864 करोड़ है। कैश प्रॉफिट ₹1,25,951 करोड़ और नेट प्रॉफिट 73,670 करोड़ है।

रिलायंस अभी हाइड्रोकार्बन एक्सप्लोरेशन और प्रोडक्शन, पेट्रोलियम रिफाइनिंग और मार्केटिंग, पेट्रोकेमिकल्स, एडवांस मटेरियल और कंपोजिट, रिन्यूएबल एनर्जी (सोलर और हाइड्रोजन), डिजिटल सर्विस और रिटेल सेक्टर में काम करती है।

नीता ने हाल ही में RIL के बोर्ड से दिया था इस्तीफा
नीता अंबानी ने हाल ही में रिलायंस इंडस्ट्रीज (RIL) के बोर्ड से इस्तीफा दिया है। नीता अंबानी ‘नीता मुकेश अंबानी कल्चर सेंटर’ की भी फाउंडर हैं। मुंबई में स्थित यह संस्था म्यूजिक और थिएटर का प्रमुख सेंटर है।

रिलायंस-डिज्नी को कॉम्पिटिटर्स पर बढ़त मिलेगी
एलारा कैपिटल के एक रिसर्च एनालिस्ट, करण तौरानी ने कहा कि डिज्नी और रिलायंस के पास पहले से ही विज्ञापन में लगभग 40 से 45% की संयुक्त बाजार हिस्सेदारी है और स्ट्रीमिंग में भी लगभग इतना ही हिस्सा है, जिससे उन्हें कॉम्पिटिटर्स पर भारी बढ़त मिलती है।

तौरानी ने कहा, ‘इस डील से प्रॉफिबेलिटी बेहतर होगी क्योंकि टीवी और स्ट्रीमिंग दोनों में कंटेंट की लागत कम हो सकती है। तो आप छोटे प्लेयर्स को बाजार हिस्सेदारी खोते हुए देखेंगे और कुछ तो बंद भी हो सकते हैं।’

खबरें और भी हैं…

Leave a reply