रामपुर और मुरादाबाद में उम्मीदवारों को लेकर समाजवादी पार्टी में बगावत -अमर उजाला हिंदी न्यूज़ लाइव

0
2


रामपुर और मुरादाबाद में प्रत्याशियों को लेकर समाजवादी पार्टी में बगावत।

अखिलेश यादव व आजम खां।
– फोटो : amar ujala

विस्तार


सीतापुर जेल में बंद प्रदेश के पूर्व मंत्री आजम खां मुरादाबाद के मौजूदा सांसद एसटी हसन का टिकट कटवाने में कामयाब रहे। आजम की खास मानी जाने वाली रुचिवीरा यहां से सपा की प्रत्याशी होंगी। वहीं सपा नेतृत्व ने रामपुर में आजम की नहीं सुनी और मोहिबुल्लाह नदवी को मैदान में उतार दिया। नदवी दिल्ली की पार्लियामेंट स्ट्रीट जामा मस्जिद के इमाम हैं। वे मूल रूप से रामपुर के ही रहने वाले हैं।

नदवी का टिकट फाइनल होने के बाद भी रामपुर में सपा के अंदर घमासान बढ़ता हुआ दिख रहा है। रामपुर में सपा के टिकट पर पिछला उपचुनाव लड़ चुके आसिम राजा ने बुधवार को निर्दलीय प्रत्याशी के तौर पर पर्चा भर दिया। रामपुर के सपा जिलाध्यक्ष अजय सागर का कहना है कि हमें आजम खां ने नदवी के बजाय आसिम राजा को चुनाव लड़ाने के निर्देश दिए हैं। रामपुर से सपा का नदवी को उतारना आजम के लिए झटका माना जा रहा है।

यहां बता दें कि आजम ने अखिलेश यादव के सामने रामपुर से चुनाव लड़ने की पेशकश की थी, लेकिन सपा अध्यक्ष इसके लिए तैयार नहीं हुए। इसके बाद आजम ने वहां चुनाव बहिष्कार का एलान कर दिया, लेकिन सपा नेतृत्व उनके दबाव में नहीं आया। नामांकन के आखिरी दिन मोहिबुल्लाह नदवी को अपना सिंबल दे दिया। सपा जिलाध्यक्ष अजय सागर का कहना है कि नदवी के नामांकन के लिए प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम पटेल रामपुर आए थे, लेकिन उन्हें इसकी सूचना तक नहीं दी गई।

उधर, मुरादाबाद में सपा नेतृत्व ने आजम की नाराजगी मोल लेना ठीक नहीं समझा और अपने मौजूदा सांसद एसटी हसन का टिकट काट दिया। उनकी जगह सपा नेतृत्व ने बिजनौर की पूर्व विधायक रुचिवीरा को सिंबल जारी कर दिया। चुनाव आयोग ने रुचिवीरा को सपा का अधिकृत प्रत्याशी घोषित कर दिया है।

आजम को मनाने सीतापुर जाएंगे शिवपाल यादव

सपा सूत्रों के मुताबिक आजम खां के रामपुर में चुनाव बहिष्कार के बाद जल्द ही पूर्व मंत्री शिवपाल यादव उन्हें मनाने सीतापुर जेल जाएंगे।

मामले पर सपा के राज्यसभा सदस्य जावेद अली खान ने कहा कि नवाबों के दौर में भी मुरादाबाद कभी रामपुर के अधीन नहीं रहा, पर अब है।

Leave a reply