यहां की हींग कचौरी 60 साल से धूम मचा रही है। – News18 हिंदी

0
4


अंकित राजपूत/जयपुर. जयपुर की हर सड़क पर स्ट्रीट फूड का स्वाद मिलता है और ऐसे ही जयपुर में कई साल पुरानी दुकानें जहां आज भी स्वादिष्ट व्यंजनों के लिए लोगों की जमकर भीड़ उमड़ती है. वैसे ही आपने हींग की कचौड़ी तो कई जगह खाई होंगी लेकिन आपने कभी सुना है कि हींग की कचौड़ी के नाम से ही उस गली का नाम हिंग की कचौड़ी वाली हो गया. जयपुर में चौड़ा रास्ता में स्थित एक गली जिसकी पहचान सिर्फ हींग की कचौड़ी के लिए फेमस है. इस गली में पिछले 60 साल से हींग की कचौरी की महक लोगों को इस गली तक खींच लाती है.

पुरण जी कचौड़ी वाले की दुकान की शुरुआत 1963 में पुरण पोसवाल जी ने की थी. इनकी हींग की कचौड़ी के लाजवाब स्वाद की महक चौड़ा रास्ता से धीरे-धीरे पूरे शहर में फैलने लगी और यहां लोगों की भीड़ उमड़ना शुरू हो गई. देखते ही देखते यह गली हींग कि कचौड़ी वाली गली के नाम से फेमस हो गई. पूरण जी के बाद इस दुकान को उनके बेटे कैलाश पोसवाल जी ने संभाला और इस कचौड़ी के व्यापार को आगे बढ़ाया और अब उनके पोते गोविंद पोसवाल इसे संभाल रहे हैं.

यह भी पढ़ें- दवाई का बाप है ये जहरीला पत्ता, पैरालिसिस.. जोड़ो में दर्द.. डायबिटीज के लिए रामबाण, जानें और भी फायदे

25 दिन तक खराब नहीं होती है ड्राई कचौड़ी
पुरण जी कचौड़ी वाले की दुकान में ओरिजिनल हींग के साथ मिक्स दाल और कुछ खास मसालों से बने नुस्खे से कचोरी का मसाला तैयार किया जाता हैं और फिर उसे तेल में तला जाता है. पूरण जी कचोरी वाले की एक और खास बात यह है कि अभी भी इनकी कचौड़ियों को अनुभवी और मंजे हुए बाबरची ही बनाते हैं जिससे 60 साल पहले का लाजवाब नुस्खे का स्वाद आज भी बरकरार है.

तीन प्रकार की स्पेशल कचौड़ियां
पुरण जी कचौड़ी वाले की दुकान में 3 प्रकार की कचौड़ियां बनाई जाती हैं जिससे सबसे फेमस हींग की कचौड़ी है और उसके अलावा प्याज और मसाले की स्पेशल कचौड़ियां भी आपको यहां मिल जाएगी. इनकी ड्राई मसाले की कचौड़ी खासियत है कि यह 20-25 दिन तक खराब नहीं होती है. इन कचौड़ियों को लेने लोग दूर-दूर से यहां चले आते हैं. यहां हींग की कचौड़ी आपको 16 रुपये की मिलेगी जिसके साथ स्वादिष्ट चटनी होती है. इनकी कचौड़ियों की डिमांड पूरे भारत में हैं.

टैग: खाना, जयपुर समाचार, स्थानीय18, राजस्थान समाचार

Leave a reply