Tuesday, April 16

क्या आपने खाई है बिहार की ये स्पेशल मिठाई? साल में सिर्फ 5 महीने होता है तैयार, स्वाद है बेजोड़

0
3


सावन कुमार/बक्सर:- मनरसा मिठाई नाम सुनते ही खुद-ब-खुद मुंह से पानी आने लगता है. इसका स्वाद इतना लजीज होता है कि एक बार स्वाद चखने के बाद बार-बार खाने का मन करेगा. इस मिठाई की एक और खासियत यह है कि यह एक खास सीजन में ही बनता है. मनरसा मिठाई बिहार के कई इलाकों में जुलाई के बाद बनना शुरू होता है और दिसंबर तक बाजार में उपलब्ध होता है. जो मनरसा प्रेमी हैं,  उनको बाकी समय इस मिठाई के लिए इंतजार करना पड़ता है. हालांकि बक्सर शहर के गोलंबर के पास अंकित मनरसा व तिलकुट दुकान है, जहां आपको मनरसा के लिए इंतजार करने की जरूरत नहीं पड़ेगी, क्योंकि यहां आपको हर रोज गरमा-गरम मनरसा खाने को मिल जाएगा.

रोजाना 15 से 20 किलो की हो जाती है बिक्री
बक्सर शहर में गोलंबर के पास आपको अंकित मनरसा व तिलकुट वाले का ठेला मिल जाएगा. यहां सुबह से शाम तक मनरसा बनते रहता है. दुकानदार गुड्डू ने लोकल 18 को बताया कि अमूमन मनरसा सीजनल मिठाई है. लेकिन यहां आपको हर सीजन में मनरसा मिल जाएगा. ऑफ सीजन में भी यहां हर रोज 15 से 20 किलो मनरसा आसानी से बिक जाता है. बक्सर के लोग हमेशा मनरसा की डिमांड करते हैं. इसलिए यहां हमेशा मनरसा बनता है. हालांकि बरसात में मनरसा की बिक्री अधिक होती है. बरसात के दौरान रोजाना 50 से 60 किलो तक की बिक्री हो जाती है.

ये भी पढ़ें:- अगला स्टेशन पटना जंक्शन है…मेट्रो नहीं, अब ट्रेन में भी सुनाई देगी ये आवाज, रेलवे ने लिया ये फैसला

जुलाई के बाद मनरसा की बढ़ जाती है डिमांड
दुकानदार गुड्डू ने Local 18 को आगे बताया कि यह मिठाई खोया और तिल से बनता है. इसको बनाने के लिए रिफाइन का उपयोग किया जाता है. यह मिठाई के हल्का मीठापन लिए होता है. इसे खाने के लिए लोग दूर-दूर से आते हैं. इस मिठाई की डिमांड यहां रोज रहती है. जुलाई के बाद तो इस मिठाई की डिमांड इतनी बढ़ जाती है कि दूर-दूर से लोग खरीदने आते हैं. इस इलाके के लोगों का मनरसा पसंदीदा मिठाई है. गुड्डू ने बताया कि अभी 160 रूपए प्रति किलो के हिसाब से मनरसा की बिक्री करते हैं. शाम के वक्त यहां लोगों की भीड़ लगती है.

टैग: बिहार के समाचार, बक्सर खबर, खाना, स्थानीय18

Leave a reply