कहीं मोबाइल तो नहीं बन रहा आपके रिश्‍ते में दरार की वजह? 5 लक्षणों से करें पहचान, जानें Digital Detox का तरीका

0
6


स्मार्ट फ़ोन रिश्तों को कैसे प्रभावित करता है: रोजमर्रा के लाइफ में टेक्‍नोलॉजी की दखल बढ़ी है. हम खुद को समाज से जुड़ा रखने के लिए सोशल मीडिया का इस्‍तेमाल करते हैं. मोबाइल फोन की मदद से ना केवल हम अपने आसपास की दुनिया से कनेक्‍ट रहते हैं, बल्कि हर तरह की जानकारी महैया कराने के लिए भी इनका इस्‍तेमाल आसान होता है. लेकिन इनका अधिक इस्‍तेमाल हमारे पर्सनल लाइफ को कई बार बुरी तरह प्रभावित कर सकता है. यहां हम बता रहे हैं कि रिश्‍ता बचाने के लिए आपको कब डिजिटल डिटॉक्‍स की जरूरत पड़ सकती है.

ये लक्षण बताते हैं कि आपको डिजिटल डिटॉक्‍स की है जरूरत

पार्टनर से डिस्‍कनेक्‍ट महसूस करना
लवलाइफटूलबॉक्स
के मुताबिक, अगर आपको महसूस हो रहा है कि इन दिनों आप अपने पार्टनर से गहरा जुड़ाव नहीं महसूस कर पा रहे, तो यह बताता है कि आपको कुछ दिनों के लिए मोबाइल फोन या स्‍मार्ट फोन से दूरी बनाने की जरूरत है. ऐसा कुछ दिन करते ही आपके बीच का जुड़ाव फिर से मजबूत बनने लगेगा.

पार्टनर से अधिक सोशल मीडिया फ्रेंड से बातचीत
अगर आप यह महसूस कर रहे हैं कि आपके और आपके पार्टनर के बीच इन दिनों बातचीत कम हो गई है और आप सोशल मीडिया पर अधिक वक्‍त गुजारने लगें हैं तो समझ लीजिए कि यह वार्निंग साइन हो सकता है. अगर आपको सोशल मीडिया फ्रेंड से कनेक्‍ट रहना अच्‍छा लगता है तो यह भी ध्‍यान दें कि कहीं आप पार्टनर को कम वक्‍त तो नहीं दे रहे.

इसे भी पढ़ें : क्‍या होता है रिलेशनशिप में Green Flag? 10 संकेतों से करें नए रिश्‍ते की पहचान, परेशानियों से दूर रहेंगे

बिस्‍तर पर फोन लेकर सोना
अच्‍छा तरीका यह है कि बिस्‍तर पर जाने से पहले आपको जितना फोन पर बातें करनी हैं कर लें, लेकिन अगर आप बिस्तर पर भी फोन पर व्‍यस्‍त रहते हैं तो यह आपके रिलेशनशिप को पूरी तरह खत्‍म करने का काम कर सकता है. इसलिए ऐसा करने से बचें.

हर वक्‍त फोन पर नजर
अगर आप कहीं साथ घूमने जाएं या कहीं साथ खाने पर जाएं और आपका ध्‍यान फोन पर रहे तो यह भी आपके रिश्‍ते में दरार लाने का काम कर सकता है. इसलिए कहीं जाने का प्‍लान बनाने से पहले ही फोन का काम निपटा लें और फ्री होकर पार्टनर के साथ वक्‍त गुजारें. य‍ह लक्षण भी बताता है कि आपको डिजिटल डिटॉक्सिंग की जरूरत है.

ये भी पढ़ें: आपका भी पार्टनर छिपाने लगा है बात? रिश्तों में आ सकती है खटास, 5 आसान टिप्स से रिलेशनशिप होगा स्ट्रॉन्ग

हर वक्‍त साथ फोन रखना
याद करें कि लास्‍ट टाइम आप कब आप बिना फोन के कहीं गए थे. दरअसल, यह हमारा नेचर बन गया है कि हम हर किसी के लिएए ‘ऑलवेज एवलेवल’ रहना पसंद करने लगे हैं. यही नहीं, किसी के एक्‍शन पर तुरंत रिप्‍लाई करना भी हमारी आदत बन चुकी है. हम फीलिंग को जब तक सोशल मीडिया पर शेयर नहीं कर देते, हमें चैन नहीं आता. लेकिन इस चक्‍कर में आप अपने लाइफ पार्टनर के साथ क्‍वालिटी टाइम नहीं गुजार पाते. आपकी भी ये आदत है तो बता दें कि आपको भी डिजिटल डिटॉक्‍स की जरूरत है.

टैग: जीवन शैली, संबंध

Leave a reply